10th के बाद क्या करे? दसवी के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए 2022

10th ke baad kya kare:- ज्यादातर लोग बिना सोचे ही 10th के बाद कोई भी सब्जेक्ट ले लेते हैं| फिर जिसमें उनका मन नहीं लगत और फेल हो जाते हैं इस वजह से वह अपना स्कूल छोड़ देते हैं| जो कि उनकी सबसे बड़ी गलती है| तो 10th के बाद एक सही सब्जेक्ट को चुनना बहुत इंपॉर्टेंट है एक अच्छा करियर बनाने के लिए।

10th के बाद क्या करे? दसवीं के बाद कोनसा subject लेना चाहिए| 10th के बाद सब्जेक्ट कैसे सेलेक्ट करे और अपना करियर कैसे बनाये|

तो आइए जानते हैं कि 10th के बाद क्या करना चाहिए| कौन सा सब्जेक्ट चुस करना चाहिए Science , Commerce, Maths या Arts या फिर और कुछ ।

इस ब्लॉग में आपको यह भी जानने को मिलेगा कि Science, Maths Commerce और Arts में डिफरेंस क्या है| और कौन सा सब्जेक्ट आपके लिए सही है तो आइए जानते हैं|

10th के बाद आर्ट्स सब्जेक्ट – Arts Subject

दसवीं पास करने के बाद जो सब्जेक्ट सबसे पहले आता है वह आता हे Arts Stream | तो यह सब्जेक्ट वह विद्यर्ति लेते हैं जिनके दसवीं बोर्ड एग्जाम में कम अंक आते हैं| 50% लोगों के मन में यह वहम है कि आर्ट्स लेने से आगे जिंदगी में वह कुछ भी नहीं कर पाएंगे| और उनके जीवन में कुछ भी स्कोप नहीं बचेगा इस सब्जेक्ट को लेने से कोई भी फायदा नहीं है |

लेकिन अगर आप यह सब्जेक्ट अच्छे से पढ़ते हैं| तो आप आगे चलकर एक बहुत ही अच्छे politician, lawyer और Court के Judges भी बन सकते हैं| इसके अलावा आप Hindi, Sanskrit के Professor भी बन सकते हैं| अगर आप आगे जाकर पॉलिटिक्स प्रशासनिक सेवा या वकील बनाना समाज सेवा करने में आपका इंटरेस्ट है| तो आप Arts Subject को चूस कर सकते हैं| अब अगला सवाल कि Arts Stream में कौन कौन से Subject होते है|

Arts Stream में Subjects कौन कौन से होते हैं ?

  • History
  • English
  • Geography
  • Sociology
  • Political Science
  • Economics
  • Sanskrit
  • Psychology

History: आर्ट्स में सबसे पहला सब्जेक्ट हिस्ट्री पढ़ाया जाता है

English: इंग्लिश में आपको इंग्लिश ग्रामर सिखाई जाती है| तथा आपकी इंग्लिश इंप्रूव करवाई जाती है|

Geography: जोग्राफी जिसे हम भूगोल भी कहते हैं : इसमें आपको पृथ्वी के बारे में ज्यादा जानकारी मिलेगी जैसे कि भूकंप कैसे आता है सुनामी कैसे आती है इत्यादि |

Sociology: इसमें आपको मनुष्य और मनुष्य के दिमाग के बारे में काफी सारे रोचक तथ्य और स्टडीज जाने को मिलेगी

Political Science: इस सब्जेक्ट के अंदर आपको भारत के गवर्नमेंट यानी कि सरकार से रिलेटेड काफी सारी चीजें सीखने को मिलेगी|

Economics: यह सब्जेक्ट के अंदर आपको भारत के कौन हमें यानी के गुड्स एंड सर्विसेज सेल के बारे में जानने को मिलेगा|

sanskrit: इस सब्जेक्ट में आपको संस्कृत भाषा लिखने और सीखने तथा इस भाषा का इस्तेमाल किस तरह से किया जाता है यह जानने को मिलेगा|

Sociology: इस सब्जेक्ट के अंदर आपको सोसाइटी से रिलेटेड यानी समाज सेवा के बारे में पढ़ाया जाएगा |

Psychology: इस सब्जेक्ट के अंदर आपको इंसान के बारे में बताया जाएगा, कि लोग क्या सोचते हैं, कि कैसे Stress-Free रहे, कैसे खुश रहें इत्यादि| इन सभी के बारे में आपको समझा जाएगा|

10th के बाद कॉमर्स सब्जेक्ट – Commerce Subject

अगर आप commerce subject सिलेक्ट करते हैं| तो आप कई तरह की professional degree और फील्ड में Job कर सकते हैं| अगर आप कॉमर्स लिखते हैं तो आप CA , CS, MBA जैसे कई अन्य प्रोफेशनल डिग्री कर सकते हैं| तथा इसके साथ आप अकाउंट से रिलेटेड जॉब कर सकते हैं ।

CA: ग्रेजुएशन के बाद CA का कोर्स करने की न्यूनतम अवधि 3 वर्ष है| क्योंकि आप खुद को पंजीकृत करने के 9 महीने बाद सीधे IPCC परीक्षा दे सकते हैं। जिसके बाद आप को Chartered accountant बनने के लिए 2.5 – 3 साल की आर्टिकलशिप भी पूरी करनी होगी।

CS: कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए आपको बारहवीं के बाद| 8 महीने का फाउंडेशन कोर्स करने के बाद executive program में दाखिला ले सकते हैं। इसके बाद professional program कर सकते हैं। यदि आप Graduate हैं तो और कंपनी सेक्रेटरी का course करना चाहते हैं| इसके लिए आप सीधा एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम में प्रवेश ले सकते हैं।

MBA: दोस्तों MBA का फुल फॉर्म Master of Business Administration होता है| यह एक पोस्टग्रेजुएट डिग्री होता है. यह कोर्स उन सभी लोगो के लिए मददगार साबित होता है| जो अपना करियर business management में बनाना चाहते है| आजकल सभी Multi National कम्पनीज में MBA प्रोफेशनल्स की मांग है|

Commerce Stream में Subjects कौन कौन से होते हैं ?

  • Accountancy
  • Economics
  • Business Studies / Organisation of Commerce
  • Mathematics
  • Information Practices
  • Statistics
  • English

Accountancy: इस सब्जेक्ट में आपको हिसाब किताब और बिजनेस के खाते| पैसा आना जाना जमा करना किस प्रकार नोट किया जाता है यह सिखाया जाएगा |

Economics: इस सब्जेक्ट के अंदर आपको भारत के कौन ओमनी गुड्स एंड सर्विस टैक्स तथा सेल के बारे में बताया जाएगा |

Business Studies / Organisation of Commerce: इसमें आपको कारोबार से रिलेटेड कई सारी चीजें सिखाई जाएगी |

Mathematics: इस सब्जेक्ट में आपको गणित सिखाया जाएगा जो आगे जाकर आपको कहीं जगह पर काम आएगा

English: इस सब्जेक्ट में आपको english grammar सिखाई जाएगी| जिससे आप अपनी अंग्रेजी और अच्छी कर पाएंगे तथा आपको अंग्रेजी में बातचीत करना सिखाया जाएगा|

Information Practices:

Statistics:

10th के बाद साइंस सब्जेक्ट – Science Subject

अगर आप 10th बाद साइंस लेते हैं तो आप BSC, microbiology, biomedical sciences, medical lab technician, para medical, nursing, pharmacy इत्यादि कई तरह की डिग्रियां कर सकते हैं| तथा आप एक सर्जन और डॉक्टर फिजियोथैरेपिस्ट बिजनेस भी कर सकते हैं| जैसे कि मेडिकल और मेडिकल एजेंसी ।

BSC :- बीएससी का पूरा नाम “बैचलर ऑफ़ साइंस” (Bachelor of Science) है, यह ग्रेजुएशन लेवल का कोर्स है। यह तीन साल का कोर्स होता है और इसमें छात्रों के लिए उनकी पसंद के अनेक कोर्स/ केटेगरी होती है। छात्र अपनी पसंद की कोर्स/केटेगरी चुन सकता है।

Microbiology :- माइक्रोबायोलॉजी एक Biology की ब्रांच है जिसमें Protozoa, Algae, Bacteria, Virus जैसे सूक्ष्म जीवाणुओं (माइक्रोऑर्गेनिज्म) पर अध्ययन और research किया जाता है। इसमें microbiologist इन जीवाणुओं (Microbes) के इंसानों, पौधों और जानवरों पर पड़ने वाले Positive और Negative effect को जानने की कोशिश की कोशिश की जाती है।

Medical lab technician :- मेडिकल लैब टेक्नीशियन को बीमारियों की पहचान के लिए रोगियों के ब्लड सैंपल आदि की जांच करनी होती है| इन जांच के परिणामों के आधार पर ही डॉक्टर रोगियों का इलाज करते है| आजकल मेडिकल लैब technician की काफी डिमांड है| ये कोर्स करने के बाद आप किसी Hospital, Nursing Home, Pathology Lab में आसानी से जॉब पा सकते हैं|

Para medical :- पैरामेडिकल एक मेडिकल कोर्स है जिसे करने वाला विद्यार्थी अस्पताल में एक सहायक चिकित्सक के रूप में कार्य करता है| जो मूल रूप से प्राथमिक चिकित्सा और ट्रॉमा सेवाएं प्रदान करता है। इसके आलावा इमरजेंसी स्थिति में medical care provider के रूप में कार्य करता है।

Nursing :- नर्सिंग लोगों को स्वास्थ्य क्षेत्र के साथ काम करने और जरूरतमंद लोगों की मदद करने और उनकी सेवा करने का अवसर प्रदान करती है। स्टाफ नर्स, पंजीकृत नर्स (आरएन), नर्स शिक्षक, मेडिकल कोडर, पंजीकृत नर्स (आरएन) – आपातकालीन कक्ष, नर्स – गहन देखभाल इकाई (आईसीयू), नवजात गहन देखभाल इकाई (एनआईसीयू) पंजीकृत नर्स इत्यादि। – Staff Nurse, Registered Nurse (RN), Nurse Educator, Medical Coder, Registered Nurse (RN) – Emergency Room, Nurse – Intensive Care Unit (ICU), Neonatal Intensive Care Unit (NICU) Registered Nurse

Pharmacy :- चिकित्सा में प्रयुक्त द्रव्यों के ज्ञान को औषधनिर्माण अथवा भेषज विज्ञान या ‘भेषजी’ या ‘फार्मेसी’ (Pharmacy) कहते हैं। इसके अंतर्गत औषधों का ज्ञान तथा उनका संयोजन ही नहीं वरन् उनकी पहचान, संरक्षण, निर्माण, विश्लेषण तथा प्रमापण भी हैं। नई औषधों का आविष्कार तथा संश्लेषण भेषज (pharmacy) के प्रमुख कार्य हैं।

Science Stream में Subjects कौन कौन से होते हैं ?

  • Physics
  • Chemistry
  • Biology
  • Mathematics
  • Computer Science
  • Technology
  • English

Physics, Chemistry, Mathematics – PCM
Chemistry, Physics Biology – PCB
Physics, Chemistry, Mathematics, Biology – PCMB

Physics: फिजिक्स सब्जेक्ट के अंदर आपको पदार्थ गति और उर्जा इत्यादि जैसे टॉपिक्स के बारे में जानने को मिलेगा|

Chemistry: केमिस्ट्री सब्जेक्ट के अंदर आपको रासायनिक विज्ञान के बारे में पढ़ने को मिलेगा | जैसे कि पानी केमिकल और गैस जैसे पदार्थों के बारे में सिखाया जाएगा|

Biology: बायोलॉजी सब्जेक्ट के अंदर आपको जीव विज्ञान के बारे में बताया जाएगा और मानव शरीर के बारे में भी बताया जाएगा|

Mathematics: मैथमेटिक्स सब्जेक्ट में आपको मैक्स सिखाया जाएगा जो आपको कई जगह पर काम आएगा |

Computer Science: कंप्यूटर साइंस सब्जेक्ट के अंदर आपको कंप्यूटर के बारे में पढ़ाया जाएगा कि कंप्यूटर क्या है सॉफ्टवेयर कैसे बनते हैं और इंटरनेट इत्यादि के बारे में पढ़ा जाएगा|

Technology: इस सब्जेक्ट के अंदर आपको बायो टेक्नोलॉजी के बारे में बताया जाएगा| जो बायोलॉजिकल सिस्टम लिविंग ऑर्गेनाइज्म इत्यादि|

English:

10th के बाद मैथ सब्जेक्ट – Maths Subject

अगर आप मैथ सब्जेक्ट यूज करते हो तो आप इंजीनियर बन सकते हैं और Engineer की कई शाखाएं हैं जैसे:- Computer Science, Mechanical Engineering, Civil Engineering, Electronic Engineering इत्यादि ।

Computer Science:- कंप्यूटर साइंस एक तरह का विज्ञान है, जिसमें हम कंप्यूटर से संबंधित विषयों के बारे में अध्ययन करते हैं। जिसे आमतौर पर CS या computer science और कंप्यूटर विज्ञान भी कहते हैं। इसके अंतर्गत हम Computer technology जिसमें दोनों ही तरह के कंपोनेंट जैसे कि hardware and software के बारे में अध्ययन किया जाता है।

Mechanical Engineering:- मैकेनिकल इंजीनियरिंग, engineering की सबसे पुरानी और बड़ी शाखाओं में से एक है. मैकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्र मशीनों की बनावट निर्माण आदि के बारे में विस्तार से अध्ययन करता है| Mechanical Engineering की degree हासिल करने के बाद में इसमें नौकरी के लिए आपके सामने बहुत विकल्प है.

Civil Engineering:- सिविल इंजीनियरी, व्यावसायिक इंजीनियरिंग की एक शाखा है जो कि भौतिक और प्राकृतिक रूप से बने परिवेश में पुल, सड़क,नहरें, बाँध और भवनों आदि के डिजाइन, निर्माण और रखरखाव से जुड़ी है। सिविल इंजीनियरिंग, सैन्य अभियान्त्रिकी के बाद आने वाली इंजीनियरिंग की सबसे पुरानी शाखा है।

Electronic Engineering:- electrical एवं Electronics Engineers के प्रमुख कार्यों में Designing, Development of Electrical Equipment, Electronic Devices, Mechatronics Technologies, Automation, Control Systems से जुड़े सभी कार्य शामिल होते हैं.

Maths Stream में Subjects कौन कौन से होते हैं ?

  • Physics
  • Chemistry
  • Mathematics
  • English
  • Hindi

Physics: फिजिक्स सब्जेक्ट के अंदर आपको पदार्थ गति और उर्जा इत्यादि जैसे टॉपिक्स के बारे में जानने को मिलेगा|

Chemistry: केमिस्ट्री सब्जेक्ट के अंदर आपको रासायनिक विज्ञान के बारे में पढ़ने को मिलेगा| जैसे कि पानी केमिकल और गैस जैसे पदार्थों के बारे में सिखाया जाएगा|

Mathematics: मैथमेटिक्स सब्जेक्ट में आपको मैक्स सिखाया जाएगा जो आपको कई जगह पर काम आएगा |

English: इंग्लिश सब्जेक्ट में आपको इंग्लिश ग्रामर सिखाई जाएगी| जिससे आप अपनी अंग्रेजी और अच्छी कर पाएंगे तथा आपको अंग्रेजी में बातचीत करना सिखाया जाएगा|

Hindi: इसमें आपकी हिंदी व्याकरण तथा हिंदी भाषा के बारे में कई अन्य बातें सिखाई जाएगी|

10th के बाद क्या करना चाहिए और क्या नहीं

10 th बाद आप क्या करें और क्या ना करें यह सब आपके ऊपर है| पर अगर आप एक अच्छा subject देख लेते हैं तो आपको आगे चलकर कोई भी परेशानी नहीं देखनी पड़ेगी| तो अगर आप मेरी राय मानते हैं आप अपना 10वीं का बोर्ड एग्जाम देने के बाद|

सबसे पहले यह सोचे कि आपको आगे चलकर क्या करना है और क्या बनना है| अगर आप एक डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आप साइंस लीजिएगा| अगर आप एक CA बनना चाहते हैं तो आप कॉमर्स लीजिए| पहले आप एक अच्छा सा समय सोचकर विचार कीजिए कि आप को अपने जीवन में आगे चलकर क्या करना है| आप क्या करने के लिए बने हैं आपका दिल क्या कहता है| किसी की बातों में या अगर आपका कोई दोस्त कोई सब्जेक्ट ले रहा है।

आपका बेस्ट फ्रेंड दूसरी क्लास में चला जाएगा और आप दूसरी क्लास में रह जाओगे| यह गलती अधिकतर बच्चे करते हैं और आगे चलकर फिर उन्हें परेशानी आती है| और फिर उन्हें या तो फिर 12th में सब्जेक्ट बदलना पड़ता है| या फिर जीस सब्जेक्ट में उनका मन नहीं लगता है| वही सब्जेक्ट पढ़ना पड़ता है फिर आगे चलकर उनका भविष्य उनके मुताबिक नहीं हो पाता है।

फिर उन्हें कॉलेज मैं सब्जेक्ट लेने में भी परेशानी होती है| और नतीजा यह निकलता है कि वह अच्छे खासे स्टूडेंट होने के बावजूद भी 12th कॉलेज मैं आकर एवरेज स्टूडेंट बन कर रह जाते हैं।

आज आपने क्या सीखा

हमें आशा है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी से आपको लाभ होगा| आप को 10 वी के बाद आप अपना सब्जेक्ट चूस करने में कोई परेशानी नहीं होगी| अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप कृपया करके हमें कमेंट सेक्शन में बताएं| इससे हमें कॉन्फिडेंस मिलता है हम आपके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं|

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आये तो इसे social media Platform पर शेयर जरूर कीजिये | इसके अलावा लेटेस्ट अपडेट जानने के लिए वेबसाइट पर दिए notification को “Allow” जरूर कीजिये|

Which subject should be taken after 10th 2022 in English
Hindi Home Page – Click Here
English Home Page – Click Here

Leave a Comment